व्यापार
10-09-2016
नई दिल्ली। कुछ और आवश्यक दवाएं मूल्य नियंत्रण के दायरे में आ सकती हैं। इस बाबत अगले हफ्ते बैठक होनी है। इसी में सरकार की ओर से फैसला लिए जाने के आसार हैं। आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची (एनएलईएम) में शामिल करीब 900 दवाओं में से लगभग 450 दवाएं पहले ही मूल्य नियंत्रण के दायरे में हैं। राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) के चेयरमैन भूपेंद्र सिंह ने कहा कि कुछ दवाएं जो अब तक मूल्य नियंत्रण के दायरे में नहीं हैं, उनकी सीमा तय करने पर विचार किया जाएगा।
08-09-2016
Image result for australiaनई दिल्ली: यूरोप व अमेरिका जैसी बड़ी शक्तियां अपनी अर्थव्यवस्था को लेकर परेशान हैं और चीन से लेकर जापान तक तमाम उभरते हुए देश मंदी की मार झेल रहे हैं। ऐसे संकट के दौर में आपको जानकर हैरानी होगी कि ऑस्ट्रेलिया एक ऐसा देश है जहां बीते 25 सालों से मंदी ने दस्तक नहीं दी है। लगातार मंदी की मार झेल रहे दुनिया के तमाम देशों की तुलना में ऑस्ट्रेलिया की जीडीपी साल 1991 की दूसरी छमाही से ही बेहतर स्थिति में है। ऑस्ट्रेलियाई के सांख्यिकी ब्यूरो (एबीएस) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों में यह बात सामने आई है।
08-09-2016
Image result for govt of indiaनई दिल्ली। बुरी तरह घाटे में चल रही जिन सरकारी कंपनियों में सुधार की गुंजाइश नहीं है उन्हें वित्तीय मदद के जरिए फिर से खड़ा करने की नई कोशिश अब नहीं होगी। ऐसी कंपनियों को बंद कर या पूर्ण रूप से बेचना ही अंतिम विकल्प माना जा रहा है। इनकी बिक्री की प्रक्रिया शुरू हो सके इसके लिए सरकार ने इनके पास उपलब्ध जमीन व अन्य असेट की जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। सरकार ने सार्वजनिक उपक्रमों में विनिवेश को लेकर नीति आयोग से सुझाव मांगे थे।
07-09-2016
Image result for petroleumनई दिल्ली। केंद्र सरकार पेट्रोलियम ईंधन के विकल्पों को तेजी से विकसित करने में जुटी हुई है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की मानें तो नए विकल्पों को आने से भारत जल्द ही पेट्रोलियम आयात मुक्त देश बन जाएगा। यानी देश पेट्रोलियम उत्पादों का आयात बंद कर देगा। गडकरी मेथेनॉल इकोनॉमी पर नीति आयोग के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। गडकरी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कम कीमतों के बावजूद फिलहाल देश कच्चे तेल (क्रूड) के आयात पर करीब 4.5 लाख करोड़ रुपये सालाना पर खर्च करता है। कुछ साल पहले जब क्रूड के दाम ऊंचे थे, तो इसका वार्षिक आयात बिल सात लाख करोड़ रुपये था।
07-09-2016
Image result for air asiaनई दिल्ली: उपभोक्ताओं को लुभाने के लिए देश की कई विमानन कंपनियां समय-समय पर सस्ती सेवाओं का ऑफर लाती रहती हैं। बीते तीन दिनों में एयर एशिया और विस्तारा ने ऐसी ही सेवाओं की सौगात दी है। हाल ही में हुआ एक ताजा सर्वे यह बताता है कि सस्ती विमानन सेवा देने के मामले में भारत दुनिया के तमाम देशों की तुलना में सबसे आगे है। आपको बता दें कि इससे पहले भी जेट एयरवेट, एयर एशिया और स्पाइस जेट भी ऐसे ही ऑफर्स का लाभ उपभोक्ताओं को दे चुकी हैं। दुनिया में सबसे सस्ती विमानन सेवा देने के मामले में भारत अब पहले पायदान पर काबिज हो चुका है।
07-09-2016
Image result for mung dalनई दिल्ली। पुराने स्टॉक के बाजार में उतरने से दाल की कीमतों में गिरावट का रुख देखकर सरकारी एजेंसियों को भी दालों के मूल्य में कटौती करने को बाध्य होना पड़ा है। जिंस बाजार के दवाब में सरकार ने अरहर दाल के मूल्य में 15 रुपये प्रति किलो की कमी का एलान कर दिया है। आयातित दाल का भारी स्टॉक, सरकार का सख्त रुख और खरीफ में दलहन बुवाई का बढ़ा रकबा देख जमाखोरों के होश उड़ गए हैं। मई और जून में बोई गई मूंग बाजार में पहुंच गई है। इसे देखते हुए कर्नाटक और महाराष्ट्र के बाजारों में मूंग की कीमत न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से भी नीचे आ गया था। इसके मद्देनजर केंद्रीय खरीद एजेंसियां तत्काल हरकत में आ गई हैं।
06-09-2016
नई दिल्ली। वर्ष 2016 में प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 9 फीसदी से ज्यादा उछल गया। वहीं इस साल शेयर बाजार में निवेश करने वाले निवेशक 10.70 लाख करोड़ रुपए की कमाई कर अमीर हुए हैं। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड सभी कंपनियों की कुल वैल्युएशन 10,70,320 करोड़ रुपए बढ़कर 1,11,08,054 करोड़ रुपए पहुंच गई। 2015 के अंत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड सभी कंपनियों का वैल्युएशन 1,00,37,734 करोड़ रुपए था। शेयर बाजार की तेजी में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंस पर लिस्टेड सभी कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 31 अगस्त को सर्वोच्य स्तर 1,11,22,815 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया।
06-09-2016
नई दिल्ली। रिलायंस जिओ को अपना बिजनेस मुनाफे में लाने के लिए 7.5 से 8 करोड़ यूजर्स जोड़ने होंगे। ब्रोक्रेज फर्म की ओर से हाल में जारी रिपोर्ट्स में यह अनुमान लगाया है कि अगले 2 से 3 वर्षों में कंपनी 7.5 से 8 करोड़ यूजर्स को अपने नेटवर्क से जोड़कर बिजनेस को नो प्रॉफिट नो लॉस की स्थिति में ला सकती है। यह अनुमान सभी ग्राहकों पर औसतन 180 रुपए प्रति माह का बिल चार्ज करने के आधार पर लगाया गया है। कंपनी ने कुल 10 करोड़ यूजर्स का जोड़ने का लक्ष्य रखा है।
06-09-2016
मुंबई। एक दिन पहले ही रिजर्व बैंक के गवर्नर पद से रिटायर होने वाले रघुराम राजन ने वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए को आगाह करते हुए कहा है कि वैश्विक स्तर पर कम ब्याज दर बाजार को बुरी तरह गिरा सकती है। उन्होंने ये भी कहा कि अगर ऐसा होता है तो बाजार के लिए वापस अपनी लय में लौटना काफी मुश्किल हो सकता है। राजन ने कहा कि अमेरिका और यूरोप के कई देश विकास दर बढ़ावा देने के लिए ब्याज दर कम रखते हैं लेकिन वो इस डर से भी घिरे रहते हैं कि अगर उन्होंने कभी ब्याज दर को बढ़ाया तो उनकी विकास दर कम हो जाएगी।
05-09-2016
नई दिल्ली। रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि रिजर्व बैंक के पास सरकार के सर्वोच्च नेता या विभाग के किसी फैसले को ना कहने का अधिकार है और इन अधिकारों की रक्षा होनी चाहिए। उन्होंने ये भी कहा कि देश को एक मजबूत और स्वतंत्र सेंट्रल बैंक की जरूरत है। सेंट्रल बैंक की स्वायत्ता के मुद्दे पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में व्याख्यान देने पहुंचे राजन ने कहा कि सेंट्रल बैंक सरकार के सभी बंधनों से मुक्त नहीं हो सकता क्योंकि सेंट्रल बैंक को सरकार द्वारा तय की गई सीमाओं में ही काम करना होता है।